Advertisements

ना मै घटिया हूँ ना छिछोरा शाहरुख़ खान

‘रईस’ के ट्रेलर की ग्रैंड लॉन्चिंग के बाद शाहरुख खान यशराज स्टूडियो में मीडिया से मुखातिब हुए। उनके साथ इस मौके पर नवाजुद्दीन सिद्दीकी के अलावा फिल्म के निर्देशक राहुल ढोलकिया और सह-निर्माता रितेश सिधवानी भी मौजूद थे। शाहरुख बहुत ही उम्दा मूड में थे और उन्होंने मीडिया के तमाम आड़े-तिरछे सवालों का जवाब बहुत ही संयमित होकर दिया।

‘नोटबंदी’ की मार झेल रही फिल्मों के दौर में शाहरुख से यह सवाल बहुत वाजिब था कि उनकी फिल्म ‘रईस’ पर इसका कितना असर पड़ेगा। इस पर शाहरुख का कहना है ‘मैं समझता हूं कि आने वाले दिनों में चीजें स्वभाविक तौर पर बेहतर होंगी। स्थिति सामान्य होने में थोड़ा समय लगा है। शुरु में लोग जरूरत के अनुसार चयन कर रहे थे, जब नकदी की किल्लत होती है तो लग्जरी चीजों पर पहले असर होता है। मुझे लगता है कि स्थिति सुधरी है। कुछ दिनों में चीजें बेहतर होंगी। ‘डियर जिंदगी’ के साथ यह एहसास हुआ है कि लोग फिल्मों पर पैसा खर्च कर रहे हैं।’

अमूमन शाहरुख न तो हाथ में कुछ पहनते है न ही गले में। लेकिन ‘रईस’ के प्रमोशन के दौरान शाहरुख एक लॉकेट पहने हुए थे। उन्होंने यह लॉकेट ‘रईस’ में भी पहना है। इस लॉकेट में शाहरुख के माता-पिता की तस्वीर है जो उनके दिल के बहुत करीब है। इवेंट में शाहरुख ने लॉकेट खोलकर मीडिया को दिखाया। ‘रईस’और ‘काबिल’ की रिलीज डेट क्लैश होने के सवाल पर शाहरुख ने कहा कि ट्रेलर के समय से ही रिलीज डेट तय की जाती है। ‘काबिल’ और ‘रईस’ दोनों 25 जनवरी बुधवार को साथ में रिलीज हो रही हैं। दोनों का कोई टकराव नहीं हैं। 26 को छुट्टी है इसलिए हम 25 को रिलीज कर रहे हैं। ‘रईस’ नियमित शो में चलेगी और ‘काबिल’ शाम के शो में। वैसे भी इंडस्ट्री में साल भर में 150 फ़िल्में बनती हैं और शुक्रवार तो तकरीबन 60 ही हैं तो ऐसे में दो फिल्में साथ में रिलीज होना स्वाभाविक है।’

जब किंग खान से पूछा गया कि इमोशनल सीन से दौरान जब वे रो रहे होते हैं तो क्या तब सच में रोते हैं या फिर अभिनय करते है? इस पर शाहरुख का कहना था ‘चक दे’ में जब कबीर खान रोया था, तब ऐसा लगा था की हम सब भी रो देंगे। (हंसते हुए) इमोशनल सीन के समय मैं रोता नहीं हूं। सिर्फ उस दृश्य को महसूस करके अभिनय करता हूं। हां जब मुझे असल में रोना होता है तो मैं बाथरूम में रो लेता हूं और उस समय किसी को भी बाथरूम में नहीं आने देता।( हंसते हुए) और ऐसी दुआ मत करो यार की मैं रोऊं और खास तौर पर ट्रेलर के वक्त तो बिलकुल ही नहीं।

जब उनसे पूछा गया कि क्या वे असल जिंदगी में बैड बॉय हैं? तो उन्होंने तपाक से जवाब दिया, ‘मैं बदतमीज हूं, घटिया नहीं और छिछोरा भी नहीं। आई एम वैरी बैड बॉय। मैं नियमों को ज्यादा नहीं मानता। मैं सभी चीजें कह भी देता हूं और कर भी देता हूं। मैंने अपने बच्चों को भी यही बताया है। मैं बैड बॉय हूं। मैं वो बैड बॉय हूं जो शरीफ लगता हूं और जिसे लड़कियां अपनी मां के पास भी ले जा सकती हैं!

इवेंट के दौरान शाहरुख ने नवाजुद्दीन सिद्दीकी की तारीफ करते हुए कहा ‘स्टार तो पोस्टर पर आ जाता है और सारा श्रेय ले जाता है। लेकिन नवाज भाई जैसे एक्टर हों तो फिल्म में चार चांद लग जाते हैं। जब आप पूरी फिल्म देखेंगे तो उसमें सबसे बेहतरीन हिस्सा नवाज भाई का अभिनय है।’

मीडिया द्वारा पाकिस्तानी अदाकारा माहिरा को लेकर पूछे गए सवाल पर शाहरुख ने चुप्पी साध ली। फिर निर्माता रितेश सिधवानी ने कहा ‘वीजा को लेकर माहिरा को किसी प्रकार की दिक्कत नहीं होगी। प्रमोशन के दौरान अगर जरूरत पड़ी तो उन्हें बुलाया जा सकता है।’ इस अवसर पर शाहरुख का कहना था ‘रईस पहली फिल्म है जिसका टीजर 2015 में आया, 2016 में ट्रेलर आया और फिल्म 2017 में रिलीज होगी। शूटिंग के दौरान घुटने में चोट लगने के कारण शूटिंग रोकनी पड़ी थी। इसलिए फिल्म रिलीज होने में देरी हुई। रईस के एक डायलॉग ‘जो धंधे के लिए सही वो सही, जो धंधे के लिए गलत वो गलत’ पर जब शाहरुख से पूछा गया कि क्या उन्होंने अपने करियर में इस संवाद को अपनाया है तो उनका कहना था, ‘शूटिंग के समय घुटने में चोट लग गयी थी क्योंकि वो मेरे काम की जरूरत थी फिर भी किंग खान ने हार नहीं मानी|

Advertisements

Neha Mishra

Currently I am pursuing my Bachelor of Mass Communication. Also working in the AIRHIT Media Networks....

Leave a Reply

%d bloggers like this: