आलिया या कंगना है एक बेहतरीन एक्ट्रेस:मनीषा

सौदागर 1942 ए लव स्टोरी’, ‘बॉम्बे’, ‘खामोशी द म्यूजिकल’, ‘दिल से’ और लज्जा जैसी कई बेहतरीन फिल्मों में दमदारकिरदार निभाकर वाहवाही और अंतराल के बाद फिर से तैयार हैं फिल्मों में वापसी करने के लिए। राजकुमार हिरानी के निर्देशन में बन रही संजय दत्त की बायॉपिक में मनीषा संजय दत्त की मां नरगिस दत्त का रोल निभा रही हैं। वैसे मनीषा की तमन्ना है कि उनकी जिंदगी की कहानी भी परदे पर उतारी जाए।

मनीषा भले ही नेपाल के राज घराने से ताल्लुक रखतीं हो लेकिन उनकी जिंदगी में भी कई उतार-चढ़ाव आये हैं। राजघराने से बॉलिवुड की हिरोइन बनने, फिर शादी और कुछ ही सालों में तलाक, बाद में कैंसर जैसी बिमारी से जूझ कर बाहर निकलने तक मनीषा कोइराला का जीवन खुद एक फिल्म की कहानी जैसा रहा है। यही वजह है कि मनीषा खुद की बायॉपिक बनते देखना चाहती हैं।

मनीषा कहती हैं, ‘जी हां मैं भी अपनी बायॉपिक बनते हुए देखना चाहती हूं। पर अभी नहीं बल्कि 20 साल बाद।’ बायॉपिक में खुद के किरदार को निभाने के लिए बॉलिवुड की किस हिरोइन को परफेक्ट मानती हैं? इस सवाल के जवाब में मनीषा कहती हैं कि आलिया भट्ट और कंगना रनौत में से कोई भी एक उनके किरदार के लिए अच्छी रहेंगी। वह आगे कहती हैं कि आलिया जितनी सुन्दर है उतनी ही अच्छी अभिनेत्री भी है, वहीं कंगना एक मजबूत इरादों वाली टैलंटेड महिला हैं।

एक बातचीत में मनीषा कहती हैं कि उनके लिए नरगिस दत्त का किरदार निभाना बहुत बड़े सम्मान की बात है। इस किरदार को निभाना बड़ी जिम्मेदारी भी है। वह बताती हैं कि संजय दत्त को लेकर बचपन से ही क्रश रहा है और संजय के साथ कई फिल्मों में काम करने का भी मौका मिला है।

मनीषा कहती हैं, ‘संजय दत्त कि बहन प्रिया दत्त के लिए मेरे दिल में बहुत इज्जत है। हमारी मुलाकात कैंसर से जुड़े मरीजों के कामकाज के सिलसिले में होती रहती है। मुझे प्रिया को यह बताना अच्छा लगा कि मैं उनकी मां का किरदार निभाने जा रही हूं।’

साल 2010 में नेपाल के एक नामी बिजनसमैन सम्राट दहल से मनीषा की शादी हुई थी और दो साल के अंदर ही 2012 में तलाक भी हो गया था। शादी टूटने के बाद ही उन्हें कैंसर जैसी बिमारी ने जकड़ लिया था, जिसका इलाज न्यूयॉर्क के उसी हॉस्पिटल में हुआ जिसमें नरगिस दत्त का इलाज हुआ था।

Advertisements

Leave a Reply